तुम्हारे मूरत से बढ़कर इस जहाँ में कोई खूबसूरत नहीं है

abhiMay 2, 20191min1600
Mereliye-1280x992.png

“तुम्हारे मूरत से बढ़कर इस जहाँ में कोई खूबसूरत नहीं है”

मेरे लिए परिवार से बढ़कर

इस जहाँ में कोई दौलत नहीं है

मेरे लिए सम्मान से बढ़कर

इस जहाँ में कोई सोहरत नहीं है ||

हक़ीक़त से वास्ता रखता हूँ

हवा में कोई भी बात नहीं करता

झूठी दिलासा से बढ़कर

इस जहाँ में कोई फितरत नहीं है ||

संदेश चाहे अनुशाशन का हो

या फिर चैन और अमन का हो

आपस की लड़ाई से बढ़कर

इस जहाँ में कोई नफरत नहीं है ||

ए मेरे जीवन के मालिक और

इस जहाँ के रखवाले तुम हो

तुम्हारे मूरत से बढ़कर

इस जहाँ में कोई खूबसूरत नहीं है ||

 

कवि, शायर, ग़ज़लकार और गीतकार
“पवन कुमार उपाध्याय”
#पवन_उपाध्याय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *