#CAA के लागू होने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी और ममता बनर्जी दिखेंगे एक साथ

नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पश्चिम बंगाल के दो दिवसीय दौरे पर है। शनिवार प्रधानमंत्री पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता पहुंच रहें हैं। शाम को पीएम मोदी और सीएम ममता बनर्जी की राजभवन में मुलाकात तय है। प्रधानमंत्री की यात्रा को देखते हुए बड़ी संख्‍या में छात्रों ने प्रदर्शन का फैसला किया है। पीएम मोदी की यह यात्रा ऐसे समय पर हो रही है जब केंद्र सरकार ने नागरिकता संशोधन कानून लागू कर दिया है और ममता इसका पुरजोर विरोध कर रही हैं।

बता दें कि नागरिकता कानून और एनआरसी को लेकर जारी तल्खी के बीच पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी एक सरकारी कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मंच साझा कर सकती हैं। खबरों के मुताबिक रविवार को होने वाले एक कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ममता बनर्जी एक मंच पर दिखेंगे।

केओपीटी(KOPT)के 150 साल पूरे होने के मौके पर रविवार को आयोजित होने वाले कार्यक्रम में बनर्जी को आमंत्रित करने के लिए जहाजरानी राज्य मंत्री मनसुख मंडाविया शुक्रवार को निजी तौर पर राज्य सचिवालय गए थे। इस बीच, दोनों नेताओं की संभावित मुलाकात पर विपक्षी माकपा के विधायक दल के नेता सुजान चक्रवर्ती ने आरोप लगाते हुए कहा कि अब तृणमूल कांग्रेस का ‘दोहरा मापदंड उजागर हो गया है।’

यह भी पढ़ें- CAA, NRC और NPR के खिलाफ मुबंई से निकाली जा रही है ‘गांधी शांति यात्रा’

खबरों के मुताबिक शाम करीब चार बजे प्रधानमंत्री के शहर पहुंचने के बाद दोनों नेताओं के बीच बैठक होगी। छात्रों के प्रदर्शन को देखते हुए राजभवन के आसपास धारा 144 लगा दी गई है। राजभवन और एयरपोर्ट के आसपास भारी संख्‍या में सुरक्षा बल तैनात किए गए हैं। पीएम मोदी अगर सड़क मार्ग से राजभवन जाते हैं तो उसके लिए एयरपोर्ट से राजभवन तक पूरी सड़क पर बैरिकेडिंग कर दी गई है। पूरी सड़क पर सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं।

पीएम नरेंद्र मोदी ने खुद ट्वीट कर अपने पश्चिम बंगाल दौरे की जानकारी दी है। उन्होंने लिखा, ‘मैं आज और कल के अपने पश्चिम बंगाल दौरे को लेकर उत्साहित हूं। इस दौरान मुझे स्वामी विवेकानंद जयंती के मौके पर रामकृष्ण मिशन जाने का भी मौका मिलेगा। इस स्थान पर कुछ खास है।’ यही नहीं पीएम मोदी ने एक अन्य ट्वीट में रामकृष्ण मिशन के ही स्वामी आत्मास्थानंद को भी याद किया। उन्होंने कहा कि इस मौके पर उनकी कमी खलेगी। उन्होंने ही मुझे जन सेवा ही प्रभु सेवा की सीख दी थी।

यह भी पढ़ें- एक तरफ राजनेताओं का परिवारवाद, दूसरी तरफ पीएम मोदी का साधारण ‘परिवार’

गृह मंत्रालय की तरफ से अधिसूचना जारी होने के बाद अब यानी 10 जनवरी 2020 से CAA लागू हो गया है। पिछले महीने संसद के दोनों सदनों ने इस कानून को मंजूरी दी थी। इसी कानून को लेकर देशभर में विरोध-प्रदर्शन हो रहे हैं। प्रधानमंत्री कोलकाता में कोलकाता पोर्ट ट्रस्‍ट के कार्यक्रम में शामिल होंगे। पीएम मोदी की आधिकारिक यात्रा से ठीक पहले शुक्रवार की रात को हावड़ा पुल को रंग-बिरंगी लाइटों से सजा दिया गया है। प्रधानमंत्री नेताजी सुभाष ड्राई डॉक में कोचिन कोलकाता शिप रिपेयर यूनिट में सुविधाओं के विस्‍तार का उद्घाटन करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *