भारतीय रेलवे का एक और फरमान, 30 जून तक के सभी टिकट कैंसिल !

श्रमिक ट्रेन, Indian railways, रेलवे, Socialaha

नई दिल्ली: कोरोना महामारी का असर वैसे तो पूरे देश पर ही पड़ा है। लेकिन इस बीच रेलवे की खामोशी ने जरूर हर किसी के दिल को झकझोर दिया। युद्ध काल में भी नहीं रुकने वाली भारतीय रेल इस लॉकडाउन में करीब देढ़ महीने आम पब्लिक के लिए बंद रही। अभी भी पाबंदिया जारी हैं, बशर्ते श्रमिकों के लिए श्रमिक ट्रेन और दिल्ली से 15 स्पेशल ट्रेनों के अलावा। वहीं गुरुवार को रेल मंत्रालय ने इन दोनों के अलावा सभी बुकिंग आगामी 30 जून तक के लिए रद्ध कर दी हैं।

स्पेशल ट्रेनों का संचालन

साथ ही भारतीय रेलवे ने 30 जून तक की बुकिंग रद्द कर सभी टिकटों का रिफंड ग्राहकों को दे दिया है। गौरतलब है कि 12 मई से रेलवे द्वारा राजधानी से अलग-अलग प्रदेशों के लिए 15 जोड़ी स्पेशल ट्रेन चलाने का फैसला लिया गया था। इस दौरान इन ट्रेनों में सिर्फ एसी कोच की बुकिंग हो रही थी। साथ ही सभी के लिए मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग आदि नियमों का पालन करना जरूरी था।

श्रमिक ट्रेनों की शुरुआत

इसके अलावा रेलवे द्वारा प्रवासी मजदूरों के लिए अलग-अलग जगहों से श्रमिक ट्रेन चलाई गई हैं। जिसमें मजदूरों की सुविधा जैसे खान-पान, टिकट आदि सभी चीजों की व्यवस्था सरकार द्वारा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के माध्यम से की गई है। इस सुविधा के जरिए हजारों उन बेसहारा मजदूरों को अपने घर पहुंचने का मौका मिला जो दूसरी जगह पर फंसे थे और पलायन के लिए मजबूर थे।

रेलवे की हुई कमाई

आपको बता दें रेलवे की ओर से जो बयान जारी किया गया है, उसके मुताबिक अगले सात दिनों के लिए करीब 2.34 लाख लोगों ने स्पेशल ट्रेन का टिकट बुक किया है। रेलवे को इनसे कुल 45.30 करोड़ रुपये की कमाई हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *