Mother’s Day 2020- कैसे हुई मदर्स डे की शुरुआत, जानिए इसका इतिहास

Mother's Day 2020, Socialaha

नई दिल्ली: कोरोना महामारी के कारण देशव्यापी लॉकडाउन के चलते 10 मई को पूरी दुनिया में मदर्स डे (Mother’s Day 2020) मनाया जा रहा है। ये दिन मां को प्यार और सम्मान जताने का विशेष दिन होता है। इस दिन लोग अपनी मां का दिल जीतने के लिए उन्हें तमाम तरह के तोहफे देते हैं।

कुछ लोग इस दिन मां को बाहर घुमाते हैं, लेकिन आज कोरोना की वजह से जिस तरह के हालात हैं तो उसमें बाहर जाने का कोई सवाल ही नहीं उठता है। लेकिन आप सोशल मीडिया पर आज हर किसी की मॉं को पहचान जरूर सकते हैं।

खैर कोई बात नहीं.. आप घर पर रहकर भी मां को स्पेशल फील करवा सकते हैं। मदर्स डे हर साल मई महीने के दूसरे रविवार को आता है।

हम लोग बिना अपनी माँ के प्यार और देख-भाल के नहीं रह सकते हैं। वह हमारा बहुत ध्यान रखती है, वह बहुत खुश हो जाती है जब हमलोग हँसते है तथा वह बहुत दुखी हो जाती है जब हम लोग रोते हैं।

इस दुनिया में माँ ही है जो हमें कभी अकेला नहीं छोड़ती। आप इन मैसेज से भी अपनी मां को मदर्स डे (Mother’s Day 2020) विश कर सकते हैं।

चीनी से भी स्वीट है मेरी मां फूलों से भी सुंदर है मेरी मां दुनिया में सबसे बेस्ट है मेरी मां हैप्पी मदर्स डे !!

रुके तो चांद जैसी, चले तो हवाओं जैसी मां ही है इस दुनिया में भगवान जैसी हैप्पी मदर्स डे!!

किसी ने रोजा रखा किसी ने उपवास रखा कुबूल उसका हुआ जिसने अपने मां-बाप को अपने पास रखा!!

कैसे हुई इस दिन की शुरुआत ?

इस खास दिन की शुरुआत अमेरिका से उस वक्त हुई थी, जब 9 मई 1914 को राष्ट्रपति वुड्रो विल्सन ने एक कानून पास कर मई के हर दूसरे रविवार को मदर्स डे मनाने की घोषणा की थी।

वहीं, एक कहानी यह भी है कि अमेरिकन एक्टिविस्ट एना जार्विस अपनी मां से बहुत प्यार करती थीं और उन्होंने मां की देखभाल के लिए कभी शादी नहीं की। मां की मौत होने के बाद प्यार जताने के लिए उन्होंने इस दिन की शुरुआत की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *