प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के परिवार हैं इतने लोग, कौन हैं कहां !

नरेंद्र मोदी PM Modi _socialaha.com

नई दिल्ली-  भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम देश ही बल्कि दुनियां में भी मशहूर हैं। लेकिन नरेंद्र मोदी को कभी उनके पारिवार के साथ नही देखा गया। कुछ लोगों को शायद यह भी नही पता की उनके परिवार में कौन कौन है और वह क्या करते हैं। तो आईए आज आपको बताते हैं कि उनके पारिवार में कौन है और वह क्या करते हैं।

नरेंद्र मोदी के पिता के कुल 5 भाई थे। नरसिंह दास, नरोत्तम दा, जगजीवन दास, कांतिलाल, जयंतीलाल, कांतिला और जयंती लाल शिक्षक के रूप में रिटायर्ड हुए। जयंती लाल की बेटी लीना बेन के पति विसनगर में बस कंडक्टर थे।

नरेंद्र मोदी की एक ही बहन है, जिसका नाम वासंतीबेन हसमुख लाल मोदी हैं। उनके पति का नाम हसमुख भाई हैं। हसमुख भाई एलआईसी में थे। वसंतीबेन भी हाउसमेकर हैं। वसंतीबेन 5 भाईयों की एक बहन हैं।

मोदी के सबसे बड़े भाई का नाम सोमा मोदी हैं। वे हेल्थ डिपार्टमेंट में कार्यरत थे और अब रिटायर हो चुके हैं। अब वे अहमदाबाद में एक ओल्ड ऐज होम चलाते हैं और सोशल वर्क करते हैं।

यह भी पढ़ें- एक तरफ राजनेताओं का परिवारवाद, दूसरी तरफ पीएम मोदी का साधारण ‘परिवार’

पुणे में एक NGO के कार्यक्रम में संचालक ने मंच से सबको बता दिया कि सोमभाई नरेंद्र मोदी के बड़े भाई हैं। यह बात सुनकर सब चौंक गए थे। फिर सोमभाई ने सफाई दी, ‘मेरे और प्रधानमंत्री के बीच एक परदा है। मैं उसे देख सकता हूं पर आप नहीं देख सकते। मैं नरेंद्र मोदी का भाई हूं, प्रधानमंत्री का नहीं। प्रधानमंत्री मोदी के लिए तो मैं 123 करोड़ देशवासियों में से ही एक हूं, जो सभी उसके भाई-बहन हैं।’

दूसरे भाई प्रहलाद मोदी हैं। पीएम नरेंद्र मोदी से वह उम्र में दो साल छोटे हैं। वह अहमदाबाद में एक किराने की दुकान चलाते हैं। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार उनका टायर शो रूम भी है। बीते कई समय से वह अपने बड़े भाई के संपर्क में नहीं थे। उन्होंने एक इंटरव्यू में बताया था कि पिछले कई साल में उनकी और नरेंद्र मोदी की काफी कम मुलाकात और बातचीत हुई है।

मोदी के तीसरे भाई का नाम अमृत भाई मोदी हैं। इनकी पत्नी का नाम चंद्रकांता बेन हैं। अमृत भाई मोदी एक प्राइवेट कंपनी में फिटर के पद से रिटायर हुए। 2005 में उनकी तनख्वाह 10 हजार रुपए थी। अब वो अहमदाबाद के घाटलोदिया इलाके में चार कमरों के मकान में रिटायरमेंट वाली जिंदगी जी रहे हैं। उनके साथ उनका 47 साल का बेटा संजय समेत दो बच्चे और रहते हैं। संजय छोटा-मोटा कारोबार चलाते हैं और अपनी लेथ मशीन पर छोटे कल-पुर्जे बनाते हैं।

मोदी के सबसे छोटे भाई पंकज भाई मोदी हैं। पंकज गांधीनगर में रहते हैं। इनकी पत्नी का नाम सीताबेन है। पंकज सूचना विभाग से रिटायर्ड हुए। उनकी मां पंकज के साथ ही रहती हैं। पंकज इस मामले में खुशकिस्मत हैं कि मां के साथ रहने की वजह से उनकी मुलाकात भाई मोदी से हो जाती है।

नरेंद्र मोदी के सगे चाचा नरसिंह दास मोदी के बेटे भरत भाई मोदी वडनगर से 65 किमी दूर पेट्रोल पंप पर काम करते हैं। नरेंद्र मोदी के दूसरे कजन भाईयों का भी कुछ ऐसा ही हाल है।

यह भी पढ़ें- जानें रामानंद सागर की बनाई गई रामायण से जुड़ी कई दिलचस्प कहानियां

मोदी कुनबा आज भी उसी तरह गुमनाम जिंदगी जी रहा है, जैसी वो 2001 में नरेंद्र के पहली बार सीएम बनने के समय जीता था। मोदी खुद इस बात की तारीफ करते हुए कहते हैं, ‘इसका श्रेय मेरे भाइयों और भतीजों को दिया जाना चाहिए कि वो साधारण जीवन जी रहे हैं और कभी मुझ पर दबाव बनाने की कोशिश नहीं की। आज की दुनिया में ऐसा वाकई दुर्लभ है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *