नागरिकता संशोधन कानून- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों से शांति बनाए रखें की अपील

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी _pm modi _ socialaha.com

नई दिल्ली-  नागरिकता संशोधन कानून को लेकर देश भर में लोग विरोध प्रदर्शन कर रहे है। असम और पश्चिम बंगाल के बाद दिल्ली और यूपी मे इसको लेकर लोग सड़को पर उतर कर प्रदर्शन कर रहे है। चुप्पी साधे पीएम नरेंद्र मोदी ने अब लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि नागरिकता कानून पर हिंसात्मक विरोध प्रदर्शन दुर्भाग्यपूर्ण और दुखद है। पीएम ने बांटने वालों से सावधान रहने की अपील करते हुए कहा कि यह कानून हमारे भाईचारे को दर्शाने वाला है। पीएम ने कहा कि बहस, चर्चा और असहमति लोकतंत्र का अहम हिस्सा हैं। लेकिन सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाना और सामान्य जनजीवन को नुकसान पहुंचाना हमारा स्वभाव नहीं है।

यह भी पढ़ें – नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन, हिरासत में लिए गए छात्र

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि नागरकिता संशोधन ऐक्ट 2019 को संसद के दोनों सदनों ने बड़ी बहुमत से पास किया है। बड़ी संख्या में राजनीतिक दल और सांसदों ने इसका समर्थन किया है। यह कानून हमारे सदियों पुरानी शांति, भाईचारा और करुणा को दर्शाने वाला है।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘हम सभी देशवासियों को यह कहना चाहते हैं कि नागरिकता कानून से किसी भारतीय नागरिक को कोई नुकसान नहीं होगा। किसी भारतीय को इस ऐक्ट से घबराने की जरूरत नहीं है। यह ऐक्ट उन लोगों के लिए जो बाहर दूसरी जगह प्रताड़ना झेल रहे थे और उनके पास भारत आने के अलावा कोई रास्ता नहीं था।’


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि स्वार्थी समूहों को समाज को बांटने और उपद्रव करने की इजाजत नहीं दी जा सकती। उन्होंने लिखा, ‘वक्त की मांग है कि हम सभी भारत के विकास और हर भारतीयों खासकर गरीबों, शोषितों और वंचितों के सशक्तीकरण के लिए साथ मिलकर काम करें। हम निहित स्वार्थ वाले समूहों को हमें बांटने और गड़बड़ी पैदान करने की इजाजत नहीं दे सकते।’


यह भी पढ़ें – कालकाजी और न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी थाने से रिहा किए गए जामिया के सभी छात्रः दिल्ली पुलिस

एक और ट्वीट में पीएम मोदी ने लोगों से अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील की। उन्होंने लिखा, ‘यह वक्त शांति, एकता और भाईचारा बनाए रखने का है। मेरी हर किसी से अपील है कि किसी भी तरह की अफवाहबाजी और झूठ फैलाने से दूर रहें।’

दिल्ली के जामिया मिलिया इस्लामिया और यूपी के अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्रों ने सड़क पर जमकर उत्पात मचाया। प्रदर्शकारियों ने दिल्ली मे डीटीसी बसों को आग के हवाले कर दिया है। लोग परेशान हो रहे है वहीं इस मामले मको लेकर राजनिती गरमा गई है हर पार्टी एक दोसरे को इसका जिम्मेदार बता रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *