वेस्टइंडीज ने भारत को 8 विकेट से हराया, तीन मैचों की वनडे सीरीज में 1-0 से आगे

वेस्टइंडीज

नई दिल्ली- भारत और वेस्टइंडीज के बीच रविवार से तीन मैचों की वनडे सीरीज का आगाज हुआ। वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम ने रविवार को चेन्नई के एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले गए वनडे सीरीज के पहले मैच में मेजबान भारत को आठ विकेट से करारी मात देकर तीन मैचों की वनडे सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली।

भारत ने टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवर में 287 रनों का अच्छा स्कोर खड़ा किया। जो इस पिच पर चुनौतीपूर्ण था। भारत ने आठ विकेट पर 287 रन का स्कोर बनाया, जिसे वेस्टइंडीज ने 47.5 ओवर में दो विकेट खोकर हासिल कर लिया। भारत को उसके घरेलू मैदान में हराना कभी आसान नहीं होता लेकिन वेस्टइंडीज के दो बल्लेबाजों की वजह से यह संभव नहीं हो पाया।
यह भी पढ़ें – वेस्ट इंडीज ने टीम इंडिया को 8 विकेट से हराया, सीरीज में 1-0 की बढ़त

288 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी विंडीज को दीपक चहर ने सुनील एम्ब्रिस को 11 के कुल स्कोर पर आउट कर अच्छी शुरूआत तो नहीं करने दी, लेकिन इसके बाद भारतीय गेंदबाज शिमरोन हेटमायेर और शाई होप के आगे अपनी गेंदों से कमाल नहीं कर सके।

 दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 218 रनों की साझेदारी कर विंडीज को जीत की ओर अग्रसर कर दिया। हेटमायेर ने 106 गेंदों पर 11 चौके और सात छक्के लगाए। होप ने 151 गेंदों पर सात चौके और एक छक्का लगाया। मोहम्मद शमी ने 39वें ओवर की चौथी गेंद पर अय्यर के हाथों हेटमायेर की पारी का अंत कर विंडीज को दबाव में लाने की कोशिश की जिस पर होप ने दूसरे छोर पर खड़े रहकर पानी फेर दिया। होप के साथ निकोलस पूरन 29 रन बनाकर नाबाद लौटे।

यह भी पढ़ें – INDvsWI: विंडीज ने जीता टॉस, भारत की पहले बल्लेबाजी, जानिए प्लेइंग इलेवन ! 

मैच खत्म होने के बाद वेस्टइंडीज के कप्तान कीरोन पोलार्ड ने हेटमेयर की जमकर तारीफ की और रन आउट के मामले को तूल नहीं दिया। पोलार्ड ने कहा, ”हेटमेयर आलोचकों के निशाने पर थे लेकिन यह अपनी भूमिका और जिम्मेदारी को समझने का मामला था। टीम प्रबंधन को उन पर पूरा भरोसा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *